peperonity Mobile Community
Welcome, guest. You are not logged in.
Log in or join for free!
 
Stay logged in
Forgot login details?

Login
Stay logged in

For free!
Get started!

लिंग का आकार और सम्भोग का आनंद में सम्बन्ध | a-----------------------------------ur1st.time.sex


लिंग का आकार और सम्भोग का आनंद में सम्बन्ध
शायद यह सवाल दुनिया का सबसे ज्यादा पूछा जाने वाला सेक्स सम्बन्धी सवाल है । अभी भी बहुत से मर्द अपने लिंग के आकर को अपनी मर्दानगी से जोड़ कर देखते हैं । लिंग का बड़ा आकार औरत को सबसे ज्यादा आनंद देता है ,ऐसा बहुत से सोचते हैं । पर ये सब बकवास है । आप की इस सोच का फायदा बड़ी बड़ी कंपनियां उठती हैं । जो ऐसी दवाएं बनने का दावा करती हैं जिनके सेवन से लिंग के आकार को दोगुना किया जा सकता है और उसकी मोटाई भी बढ़ाई जा सकती है ।
औरत को काम का आनंद तब मिलता है जब उसकी योनीके संवेदन शील भागों में किसी चीज से घिसाव हो । अब वो चीज लिंग हो सकता है या ऊँगली । औरयोनी का थोड़ा सा अगला भाग ही संवेदना को महसूस कर सकता है ।
इस सन्दर्भ में एक बात गौर करने लायक है । वहये की पुरूष के लिंग और स्त्री की योनी के आकार में तालमेल अच्छा मन जाता है । जिस तरह पुरुषों के लिंग का आकार लंबा या छोटा हो सकता है वैसे ही औरत की योनी भी संकरी या चौडी हो सकती है । भारत के प्राचीन काम शास्त्र की पुस्तक काम सूत्र में इस बात का उल्लेख है । काम सूत्र में औरतों और मर्दों को उनके यौन अंगों के आकार के हिसाब से अलग अलग बांटा गया है । गहरी योनी वाली स्त्री के लिए लंबे लिंग वाले मर्द सही होते हैं । संकरे योनी मार्ग वाली औरतों के लिए छोटे आकार का लिंग ठीक होता है ।
पर ये बात इतनी ज़रूरी नहीं है । अगर स्त्री पुरूष के काम अंग अलग अलग आकार के हैं तो उनको आवश्यकता के अनुसार सेक्स पोजीशन में सेक्स क्रिया करनी चाहिए । हर प्रकार के स्त्री पुरुषों के लिए काम आसन उपलब्ध हैं ।इन आसनों का जिक्र बाद में किया जाएगा।
कुल मिला कर लिंग के साइज़ का यौन आनंद से कोई लेना नहीं है और इसको लेकर व्यर्थ चिंतान करें और जम कर रति क्रिया का आनंद लें ।


This page:




Help/FAQ | Terms | Imprint
Home People Pictures Videos Sites Blogs Chat
Top